दिल्ली से सातो सांसद जीते तो न सीलिंग होगी, न मेट्रो का किराया बढ़ेगा – AK

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने द्वारका में कहा कि सातों सांसद जिता दो फिर न मेट्रो का किराया बढ़ेगा और न ही सीलिंग होगी। एसडीएम ऑफिस का उद्‌घाटन करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री कोई भी बने, दिल्ली के आम आदमी पार्टी के सातों सांसद हर फाइल केंद्र से पास करवा कर दिखाएंगे। जबकि दूसरी तरफ चार साल बीत गए, भाजपा के सातो सांसदों ने एक भी काम नहीं किया है। अगर आज दिल्ली में आप के सातों सांसद होते तो दस गुना तेजी से काम होता।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आप सातों सांसद जिताकर दिखाओ हम सभी फाइल क्लियर करके दिखाएंगे। उन्होंने फाइल क्लियर करने के तरीके बताते हुए कहा कि सीसीटीवी के लिए एलजी ऑफिस में धरना दिया। ऐसा पहली बार सुना होगा कि किसी मुख्यमंत्री ने एलजी ऑफिस के अंदर धरना दिया है। अगर सातों सांसद हमारे होंगे तो संसद में धरना दे देंगे, संसद ठप कर देंगे, लेकिन केंद्र से आपके लिए हर फाइल क्लियर करा कर रहेंगे। चाहे धारा 81 हो या 33, सब ठीक कर दिखाएंगे।

सीएम केजरवील ने चुनौती देता हुए कहा कि अगर कोई भाजपा के सात सांसदों द्वारा किए गए एक काम को गिना कर दिखा दे। उन्होंने सिर्फ एक काम किया है, हमारी हर फाइल को रुकवाने के लिए एलजी के पास गए हैं। चाहे बिजली के रेट कम करने की हो या फिर मोहल्ला क्लिनिक या सीसीटीवी का ही मामला क्यों न हो। इन्होंने पूरी कोशिश की कि जनता के काम न हो लेकिन हमने लड़ लड़ कर सारे काम करवाए, क्योंकि हम ईमानदारी से काम करते हैं और पैसे नहीं खाते हैं। हमारे काम तो हमारे विरोधी भी मानते हैं, विरोधी भी कहते हैं कि स्कूल तो अच्छा कर दिया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 10 सितंबर से डोर स्टेप डिलिवरी शुरू होने जा रही है। अब 40 ऐसी सुविधाएं आपको अपने घरों में मिलेगी। यह ऐसी क्रांतिकारी स्कीम है जो पुरी दुनिया में कहीं भी नहीं है। दिल्ली वाले एकलौते ऐसे होंगे जिन्हें सरकार की सुविधाएं अपने घरों में मिलेगी। जिस प्रकार दुनिया हमारी मोहल्ला क्लिनिक और हैपीनेस सिस्टम को अपना रही है ठीक उसी तरह डोर स्टेप डिलिवरी को भी अपनाएगी। यह अपने आप में सबसे अलग और अनूठा स्कीम साबित होगा। इस दौरान उन्होंने दिल्ली वालों के लिए एक और राहत की घोषणा की, केजरीवाल ने कहा कि हमने तीन साल में बिजली के रेट बढ़ने नहीं दिए हैं। देश में सबसे सस्ती दिल्ली में है लेकिन बहुत जल्द हम फिक्स चार्ज पर भी लोगों को राहत दिलाएंगे, इस पर हम काम कर रहे हैं। जल्द ही इसकी घोषणा होगी।

अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि एसडीएम ऑफिस की शुरुआत होने से इलाके के लोगों को दूर नहीं जाना पड़ेगा और इससे जनता की परेशानी कम होगी। उन्होंने कहा कि गांव की दिक्कत को देखते हुए ही हमने कैलाश गहलोत को मंत्री बनाया, क्योंकि उन्हें देहात से होने की वजह से यहां की सारी समस्या पता थी। दिल्ली देहात की समस्या बाकी दिल्ली से अलग है।

साभार: tikhibat.com

Leave a Reply