Governance

दिल्ली में न्यूनतम मज़दूरी नहीं देने वाले जाएंगे जेल

दिल्ली में न्यूनतम मज़दूरी नहीं देने वाले जाएंगे जेल

General, Governance
दिल्ली सरकार द्वारा कामगारों की न्यूनतम मज़दूरी बढ़ाने के फैसले को सुप्रीम कोर्ट द्वारा आंशिक रूप से वापिस लेने के फैसले के अब बाद दिल्ली सरकार न्यूनतम मजदूरी नए सिरे से तय करने जा रही है। इसके लिए सरकार ने बृहस्पतिवार को चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया। यह कमेटी अगले एक हफ्ते तक बाजार कीमतों का आकलन कर के एक रिपोर्ट तैयार करेगी। जिसके बाद अगले दो महीनों तक संबंधित हितधारक अपनी आपत्तियां व सुझाव दे सकेंगे और उसी के आधार पर सरकार न्यूनतम मजदूरी तय की जाएगी। श्रम मंत्री गोपाल राय ने बताया कि दिल्ली सरकार 31 जनवरी से पहले मजदूरी दर की यह नई रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में दाखिल कर देगी। इस बीच सरकारी और निजी क्षेत्र के मजदूरों को पहले ही की तरह बढ़ी दरों से मजदूरी मिलती रहेगी। गोपाल राय ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट से अंतरिम राहत मिलने के बाद बृहस्पतिवार को श्रम विभाग की बैठक हुई है जिसमें चार सदस्य
अब चक्कर काटने की ज़रूरत नहीं, दिल्ली में ऑनलाइन बनेंगे बस पास

अब चक्कर काटने की ज़रूरत नहीं, दिल्ली में ऑनलाइन बनेंगे बस पास

General, Governance
दिल्ली सरकार ने आम जनता के लिए सुविधाओं को आगे बढ़ाते हुए अब ऑनलाइन डीटीसी बस पास फैसिलिटी शुरू कर दी है। ट्रांसपॉर्ट मिनिस्टर कैलाश गहलोत ने ऑनलाइन बस पास सिस्टम की शुरुआत करते हुए बताया कि एक साल में डीटीसी के करीब 25 लाख पास बनाए जाते हैं, जिनमें से 9 लाख जनरल पास होते हैं। डीटीसी के एमडी मनोज कुमार ने बताया कि डीटीसी ने यह बड़ा प्रयोग शुरू कर दिया है, जिसके अंतर्गत ऑनलाइन अप्लाई करने के बाद 5 कार्य दिवस में बस पास घर पर पहुंच जाएगा। फॉर्म रिजेक्ट होने की स्थिति में यूज़र को एमएमएस या फोन के जरिए इस बारे में जानकारी भी दी जाएगी। ट्रांसपॉर्ट कमिश्नर वर्षा जोशी के अनुसार पिछले एक साल में ट्रांसपॉर्ट सिस्टम को ऑनलाइन किया गया है और इससे आम जनता को बहुत फायदा हो रहा है। उन्होंने बताया कि फर्स्ट फेज में डीटीसी के जनरल पास ऑनलाइन बनेंगे। After the Common Mobility Card, Delhi govt launc
लोकसभा चुनाव के लिए AAP का डोर टू डोर कैम्पेन शुरू

लोकसभा चुनाव के लिए AAP का डोर टू डोर कैम्पेन शुरू

General, Governance, Politics
आम आदमी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए बड़े स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल लोकसभा चुनाव के लिए रविवार से डोर-टु-डोर कैंपेन की शुरुआत कर दी है। उन्होंने स्वयं अपनी विधानसभा नई दिल्ली में घर-घर जाकर लोगों से चुनाव में AAP को वोट और चंदा देने की अपील की। डोर-टु-डोर कैंपेन में अरविन्द केजरीवाल के अलावा डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया, दिल्ली प्रदेश संयोजक तथा मंत्री गोपाल राय सहित दिल्ली सरकार के सभी मंत्री, सांसद, लोकसभा प्रभारी, विधायक, पार्षद, पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ता सड़कों पर उतर गए हैं। पार्टी के अनुसार इस कैम्पेन में मेट्रो किराए में बढ़ोतरी और सीलिंग जैसे जनता से जुड़े मुद्दों को जोर-शोर से उठाया जाएगा। डोर-टु-डोर कैंपेन के जरिए दिल्ली में बीजेपी सांसदों पर भी हमला बोलने और उनकी नाकामी को जनता के सामने रखने का लक्ष्य है। AAP को चंदा देने वाले नई दिल्ली
दिल्ली सरकार ने कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की सैलरी वापिस बढ़ाई

दिल्ली सरकार ने कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की सैलरी वापिस बढ़ाई

General, Governance
दिल्ली सरकार द्वारा बढ़ाए गए मिनिमम वेजेस पर हाईकोर्ट द्वारा रोक लगाने के बाद दिल्ली कैबिनेट की विशेष बैठक में दिल्ली सरकार के अधीन काम करने वाले कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की सैलरी कम नहीं होने देने का फैसला किया गया । दिल्ली सरकार के विभिन्न विभागों, पीएसयू, बोर्ड, अकादमी, कॉरपोरेशंस, स्वायत्त संस्थानों में कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों को अब वहीं मिनिमम वेज मिला करेगा, जो 4 अगस्त 2018 से पहले मिला करता था। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में इससे संबंधित एक फैसले को मंजूरी दे दी गई। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कैबिनेट के फैसले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मार्च 2017 में दिल्ली सरकार ने तमाम मुश्किलों के बाद मजदूरों के मिनिमम वेज में ऐतिहासिक बढ़ोतरी की थी, जिससे कॉन्ट्रैक्ट व डेली वेजिज कर्मचारियों का वेतन 9 हजार से बढ़कर 13 से 1
दिल्ली के सरकारी स्कूलों के छात्र ब्रिटिश काउंसिल के ज़रिये सीखेंगे अंग्रेजी बोलना

दिल्ली के सरकारी स्कूलों के छात्र ब्रिटिश काउंसिल के ज़रिये सीखेंगे अंग्रेजी बोलना

Education, Governance
नई दिल्ली, दिल्ली के सरकारी स्कूलों में छात्रों और अध्यापकों को अंग्रेजी बोलने में कुशल बनाने के लिए आम आदमी पार्टी सरकार ने मंगलवार को ब्रिटिश काउंसिल ऑफ इंडिया के साथ एक अहम MOU पर हस्ताक्षर किये हैं। इस योजना के तहत ब्रिटिश काउंसिल के इंस्ट्रक्टर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में छात्रों तथा शिक्षकों को फर्राटेदार अंग्रेजी बोलना सिखाएंगे। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया और ब्रिटिश काउंसिल ऑफ इंडिया के निदेशक ओबीई एलन गेमेल ने पूर्वी दिल्ली के पश्चिमी विनोद नगर स्थित राजकीय सर्वोदय कन्या बाल विद्यालय में मंगलवार को आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए। इस महत्वपूर्ण मौके पर ब्रिटिश काउंसिल (ग्लोबल) के चेयरमैन क्रिस्टोफर रोड्रिग्स भी मौजूद थे। मनीष सिसौदिया ने कहा कि आप की सरकार बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दे रही है, क्योंकि बच्चे ही
डोरस्टेप डिलिवरी योजनना शुरू, अब आप की सरकार आपके द्वार

डोरस्टेप डिलिवरी योजनना शुरू, अब आप की सरकार आपके द्वार

Governance
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अपने ड्रीम प्रॉजेक्ट 'डोरस्टेप डिलिवरी' की शुरुआत कर दी है। इसे आप की सरकार आपके द्वार बताया जा रहा है, कहा जा रहा है कि यह देश ही नहीं बल्कि दुनिया की पहली ऐसी योजना है। इस योजना के शुरू होते ही लोग अपनी मर्जी से अपने समय की उपलब्धता के अनुसार घर बैठे जन्म और जाति प्रमाण-पत्र, राशन कार्ड जैसे डॉक्युमेंट्स बनवा सकते हैं। इस तरह के सरकारी कार्यों के लिए उन्हें किसी भी ऑफिस जाने की जरूरत नहीं होगी। इसके लिए लोगों को मात्र 50 रुपये देने होंगे। अगर आप सरकारी दस्तावेज अपने दरवाज़े पर पाना चाहते हैं तो इसके लिए एक कॉल सेंटर बनाया गया है। अगर आपको को ड्राइविंग लाइसेंस, पानी का नया कनेक्शन, इनकम सर्टिफिकेट, जाति प्रमाण-पत्र, राशन कार्ड, निवास प्रमाण-पत्र, आरसी में पता बदलवाना, मैरिज सर्टिफिकेट इत्यादि काम करवाने हैं तो आपको कॉल सेंटर फोन कर अपना
मोहल्ला क्लीनिक पर बान की मून फिदा

मोहल्ला क्लीनिक पर बान की मून फिदा

Governance
दिल्ली सरकार के विश्वस्तरीय स्कूलों के बाद अब मोहल्ला क्लीनिक्स की भी विश्व पटल पर तारीफें हो रही हैं, संयुक्त राष्ट्र (UN) के पूर्व महासचिव बान की मून तथा नॉर्वे की पूर्व प्रधानमंत्री ग्रो हार्लेम ब्रंटलान तथा अन्य कई वैश्विक गणमान्य लोगों के साथ शुक्रवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ आम आदमी पार्टी की सरकार द्वारा शुरु किए गए मोहल्ला क्लीनिकों का दौरा करने पहुंचे. दौरे के बाद बान की मून ने कहा कि ‘मैं दुनिया के कई अलग अलग हिस्सों में गया लेकिन आज जो मैंने देखा वह स्वास्थ सेवा का सबसे बेहतरीन और व्यवस्थित रूप था. यह मोहल्ला क्लीनिक और पॉलीक्लीनिक था. इन क्लिनिकों का दौरा करने वाले प्रतिनिधिमंडल में मानवाधिकारों और शांति के लिए काम करने वाले एक स्वतंत्र संगठन ‘द एल्डर्स’ के सदस्य शामिल थे। ज्ञात रहे कि दिल्ली सरकार द्वारा संचालित इस मोहल्ला क्लीनिक की तारीफ पहले भी कई
अधिकार मिलते ही एक्सप्रेस मोड में है दिल्ली सरकार

अधिकार मिलते ही एक्सप्रेस मोड में है दिल्ली सरकार

Governance, Politics
सुप्रीम कोर्ट का 4 जुलाई को अधिकारों को लेकर दिल्ली सरकार के हक़ में अहम फैसला आया था और उसके फ़ौरन बाद ही दिल्ली के रुकी हुई अहम योजनाओं ने स्पीड पकड़ ली थी। अरविन्द केजरीवाल के नेतृत्व में पिछले 2 महीनों में दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रिक बसें, सीसीटीवी कैमरे, नए मौहल्ला क्लिनिक, सरकारी सेवाओं की होम डिलीवरी, विधायक फंड में बढ़ोतरी सहित 10 से ज्यादा बड़ी योजनाओं को मंज़ूर किया गया है, इन दो महीनों में सालों से अटके फैसले भी लागू होने लगे हैं। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सामने अपनी महत्वपूर्ण योजनाओं को लागू करने की बड़ी चुनौती थी और और उन्होंने 4 जुलाई को ही डोर स्टेप डिलिवरी ऑफ सर्विसेज और सीसीटीवी जैसे बड़े प्रॉजेक्ट्स को युद्धस्तर पर करने के आदेश जारी कर दिए थे। सीएम केजरीवाल ने पिछले 2 महीनों में एक के बाद एक 150 से ज्यादा मीटिंग्स और 55 से ज
CM केजरीवाल पर फिदा हुए MCD के तीनों मेयर और नेता

CM केजरीवाल पर फिदा हुए MCD के तीनों मेयर और नेता

Governance
आए दिन विभिन्न मामलों पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व दिल्ली सरकार पर आरोप-प्रत्यारोप करने वाले एमसीडी नेता फिलहाल केजरीवाल पर फिदा होते नजर आ रहे हैं। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री ने जल्द ही तीनों एमसीडी की बकाया करोड़ों रुपये की राशि देने का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल से मुलाकात कर मेयर व एमसीडी के आला नेता गदगद हैं। उनका कहना है कि बकाया राशि को लेकर वे सीएम के खिलाफ फिलहाल कोर्ट में नहीं जा रहे हैं। अरविन्द केजरीवाल ने तीनों एमसीडी के मेयरों व आला नेताओं को इतना अभिभूत कर दिया है कि पिछले दिनों वह बिना अपॉइंटमेंट लिए सुबह-सुबह मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पर पहुंच गए। इनमें तीनों मेयर आदेश गुप्ता, नरेंद्र चावला, बिपिन बिहारी के अलावा अन्य नेता तिलकराज कटारिया, शिखा राय, कमलजीत सहरावत सहित एमसीडी के नौ आला नेता शामिल थे। सीएम ने भी बिना बुलावे पर आए इन नेताओं से
3 साल में 70 साल से ज़्यादा काम किया – केजरीवाल

3 साल में 70 साल से ज़्यादा काम किया – केजरीवाल

Governance, Politics
दिल्ली में आम आदमी पार्टी सरकार के 3 साल पूरे होने के मौके पर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बुधवार को अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाई। स्वास्थ्य के क्षेत्र में अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में जो कार्य पिछले 70 साल में नहीं हुए थे उतने कार्य आम आदमी पार्टी की सरकार ने महज 3 साल में पुरे कर दिए हैं। उन्होंने स्वास्थ्य के अलावा मुख्य तौर पर सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर में सुधार, किफायती बिजली और किसानों के लिए बढ़े हुए मुआवजे का पर बात की। CM अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में 164 मोहल्ला क्लिनिक बनकर तैयार हो चुके हैं और 786 मोहल्ला क्लिनिक बन रहे हैं। इस तरह अगले कुछ महीनों में 950 मोहल्ला क्लीनिक तैयार हो जाएंगे। उन्होंने बताया की 70 सालों में दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में 10,000 बेड्स ही बन पाए थे जबकि इस साल के अंत तक 3,000 बेड्स और अगले साल