Politics

वोटर्स के नाम काटकर जीतना चाहती है बीजेपी – AK

वोटर्स के नाम काटकर जीतना चाहती है बीजेपी – AK

General, Politics
दिल्ली सरकार ने चुनाव आयोग पर दिल्ली के सात लाख वोटरों का नाम वोटर लिस्ट से हटाने का आरोप लगाते हुए तीखा हमला बोलै है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भारत के मुख्य चुनाव आयुक्त को चिट्ठी के माध्यम से बताया है कि पिछले विधानसभा चुनावों के बाद से लेकर अब तक दिल्ली की वोटर लिस्ट से लाखों वोटरों के नाम जानबूझकर काट दिए गए हैं। जिन लोगों के नाम वोटर लिस्ट से काटे गए हैं, उनमें से अधिकतर लोग अब भी वहीं रह रहे हैं। यही नहीं बल्कि अधिकतर मामलों में वोटर लिस्ट से नाम काटने की वैधानिक प्रक्रिया का भी पालन नहीं किया गया है, जिससे नाम काटने के उद्देश्य पर संशय पैदा हो रहा है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इसे वोटर के मताधिकार की हत्या करार देते हुए सवाल किया कि क्या भाजपा अब इस तरह से चुनाव जीतना चाहती है। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय चुनाव आयोग को पत
दिल्ली में हार से डरकर बीजेपी मतदाता सूची से मतदाताओं के नाम कटवा रही है: राघव चड्ढा

दिल्ली में हार से डरकर बीजेपी मतदाता सूची से मतदाताओं के नाम कटवा रही है: राघव चड्ढा

General, Politics
बीजेपी दिल्ली में मतदाता सूचियों में बहुत बड़े स्तर पर गड़बड़ी करवा रही है, आम आदमी पार्टी के आरोप के मुताबित दिल्ली के लाखों मतदाताओं के नाम काटे दिए गए हैं। AAP प्रवक्ता राघव चड्ढा ने दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में लगभग एक लाख मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाए जाने का आरोप लगाया। दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से आप के प्रभारी का कार्यभार भी संभाल रहे राघव चड्ढा ने कहा कि दिल्ली में मतदाता सूची से बड़े स्तर पर छेड़छाड़ करने के मामले सामने आ रहे हैं। प्राप्त सबूतों के अनुसार अकेले दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से एक लाख मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटा दिए गए हैं। राघव ने कहा कि बीजेपी ने आगामी लोकसभा चुनाव में होने वाली अपनी हार से बौखला कर अब मतदाता सूची से मतदाताओं के नाम कटवाने का काम शुरू कर दिया है। "BJP अब ये बात समझ चुकी है कि 2019 के चुनाव में वो बुरी तरह से हारने वाली
विभिन्न प्रकोष्ठ के ज़रिये AAP की जन-जन तक जाने की तैयारी

विभिन्न प्रकोष्ठ के ज़रिये AAP की जन-जन तक जाने की तैयारी

Politics, Sangthan
2019 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर समाज के अलग-अलग तबकों में अपनी पैठ बढ़ाने के लिए आम आदमी पार्टी अपने संगठन को रीस्ट्रक्चरिंग के द्वारा और अधिक मज़बूत बना रही है। निचले स्तर तक संगठन को मजबूत करने में जुटी आम आदमी पार्टी ने बुधवार को वाल्मीकि जयंती के अवसर पर दिल्ली के लिए एसएसी-एसटी और अल्पसंख्यक मोर्चे की घोषणा की। दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने संगठन की रीस्ट्रक्चरिंग की कड़ी में इन दो और नए मोर्चों के गठन का ऐलान किया। एससी-एसटी मोर्चे के गठन का बुधवार को ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि ये दोनों ऐसे समाज हैं, जिन्होंने शुरू से ही पार्टी को भरपूर समर्थन दिया है। अनुसूचित जाति और जनजाति प्रकोष्ठ में करम सिंह कर्मा को अध्यक्ष, इंद्र मोहन को संगठन मंत्री, बबीता और राम सिंह गौतम को उपाध्यक्ष, राजेंद्र जाटव को सचिव और रूपेश महरा और पूजा बिड़लान को सह-सचिव बनाया गया है। अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ
पेट्रोल पंप मालिकों को छापेमारी से डराकर करवाई गई हड़तालः AK

पेट्रोल पंप मालिकों को छापेमारी से डराकर करवाई गई हड़तालः AK

General, Politics
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने की मांग की। उन्होंने बीजेपी पर पेट्रोल पंप मालिकों को हड़ताल पर जाने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'बीजेपी ने पेट्रोल वालों को धमकी दी है कि जो आज हड़ताल नहीं करेगा, उस पर इनकम टैक्स की रेड कराई जाएगी।' उन्होंने कहा कि तेल कंपनियों ने भी धमकी दी है कि जो पेट्रोल पंप हड़ताल नहीं करेगा, उसके खिलाफ सख्त ऐक्शन होगा। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा कि बीजेपी दिल्ली वालों को तंग करना बंद करे। ये दिनदहाड़े गुंडागर्दी बंद करे। उन्होंने ट्वीट किया, 'चार मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली में तेल के दाम सबसे कम हैं। मुंबई में दाम सबसे अधिक हैं, वहां के पेट्रोल पंप हड़ताल पर क्यों नहीं जा रहे हैं? क्योंकि मुंबई में बीजेपी की सरकार है और बीजेपी ही दिल्ली में आज की हड़ताल के पी
लोकसभा चुनाव के लिए AAP का डोर टू डोर कैम्पेन शुरू

लोकसभा चुनाव के लिए AAP का डोर टू डोर कैम्पेन शुरू

General, Governance, Politics
आम आदमी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए बड़े स्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल लोकसभा चुनाव के लिए रविवार से डोर-टु-डोर कैंपेन की शुरुआत कर दी है। उन्होंने स्वयं अपनी विधानसभा नई दिल्ली में घर-घर जाकर लोगों से चुनाव में AAP को वोट और चंदा देने की अपील की। डोर-टु-डोर कैंपेन में अरविन्द केजरीवाल के अलावा डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया, दिल्ली प्रदेश संयोजक तथा मंत्री गोपाल राय सहित दिल्ली सरकार के सभी मंत्री, सांसद, लोकसभा प्रभारी, विधायक, पार्षद, पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ता सड़कों पर उतर गए हैं। पार्टी के अनुसार इस कैम्पेन में मेट्रो किराए में बढ़ोतरी और सीलिंग जैसे जनता से जुड़े मुद्दों को जोर-शोर से उठाया जाएगा। डोर-टु-डोर कैंपेन के जरिए दिल्ली में बीजेपी सांसदों पर भी हमला बोलने और उनकी नाकामी को जनता के सामने रखने का लक्ष्य है। AAP को चंदा देने वाले नई दिल्ली
हमारे सातों संसद हुए तो प्रधानमंत्री से दिल्ली के काम करवा लेंगे – CM अरविन्द केजरीवाल

हमारे सातों संसद हुए तो प्रधानमंत्री से दिल्ली के काम करवा लेंगे – CM अरविन्द केजरीवाल

Politics
आम आदमी पार्टी ने रविवार से लोकसभा चुनावों के लिए अपना बहुचर्चित डोर टू डोर अभियान अर्थात घर-घर जाकर जनसंपर्क शुरू कर दिया। इस अभियान के ज़रिये दिल्ली सरकार के कामकाज के बारे में जनता से फीडबैक लिया जाएगा और चुनाव लड़ने के लिए जनता से चंदा लिया जाएगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार सुबह अपने विधानसभा क्षेत्र नई दिल्ली से इस कैंपेन को लॉन्च किया। इस कैंपेन के तहत अगले चार महीने के दौरान पार्टी के कार्यकर्ताओं की 3 हजार टीमें घर-घर जाकर लोगों से आने वाले लोकसभा चुनावों में आप को वोट देने की अपील करेंगी। साथ ही पार्टी के लिए चंदा भी इकट्ठा किया जाएगा। सीएम अपने सहयोगियों के साथ के गोल मार्केट इलाके में पहुंचे और यहां राजा बाजार स्थित खंडेलवान दिगंबर जैन मंदिर कंपाउंड में बने लोगों के घरों में जाकर उनसे पार्टी को चंदा और वोट देने की अपील की। सीएम को अपने बीच पाकर लोग भी क
मनोज तिवारी पर अरविन्द केजरीवाल का पलटवार

मनोज तिवारी पर अरविन्द केजरीवाल का पलटवार

Politics
दिल्ली की तीनों नगर निगमों को दिल्ली सरकार के जरिए मिलने वाले फंड को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है, बीजेपी दिल्ली सरकार से एमसीडी के लिए चौथे वित्त आयोग की सिफारिश को लागू करने की मांग कर रही है, तो उधर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि पहले की सरकार जितना पैसा नगर निगमों को देती थी, वह उससे तीन गुना ज्यादा दे रहे हैं। दिल्ली प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने 4 अक्टूबर को ट्वीट करके दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर केंद्र सरकार द्वारा नगर निगमों के लिए दिए जाने वाले पैसे को नहीं देने का आरोप लगाया था। उस ट्वीट का रविवार को जवाब देते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारे हिसाब से केंद्र ने दिल्ली को सिर्फ 325 करोड़ रुपये दिए हैं। सीएम ने कहा, 'इस पर बहस करने की जरूरत नहीं है। आप केंद्र को कह दीजिए कि एमसीडी के 10 हजार करोड़ सीधे एमसीडी को भेज दें। हमारे जरिए भेजने
अधिकार मिलते ही एक्सप्रेस मोड में है दिल्ली सरकार

अधिकार मिलते ही एक्सप्रेस मोड में है दिल्ली सरकार

Governance, Politics
सुप्रीम कोर्ट का 4 जुलाई को अधिकारों को लेकर दिल्ली सरकार के हक़ में अहम फैसला आया था और उसके फ़ौरन बाद ही दिल्ली के रुकी हुई अहम योजनाओं ने स्पीड पकड़ ली थी। अरविन्द केजरीवाल के नेतृत्व में पिछले 2 महीनों में दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रिक बसें, सीसीटीवी कैमरे, नए मौहल्ला क्लिनिक, सरकारी सेवाओं की होम डिलीवरी, विधायक फंड में बढ़ोतरी सहित 10 से ज्यादा बड़ी योजनाओं को मंज़ूर किया गया है, इन दो महीनों में सालों से अटके फैसले भी लागू होने लगे हैं। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सामने अपनी महत्वपूर्ण योजनाओं को लागू करने की बड़ी चुनौती थी और और उन्होंने 4 जुलाई को ही डोर स्टेप डिलिवरी ऑफ सर्विसेज और सीसीटीवी जैसे बड़े प्रॉजेक्ट्स को युद्धस्तर पर करने के आदेश जारी कर दिए थे। सीएम केजरीवाल ने पिछले 2 महीनों में एक के बाद एक 150 से ज्यादा मीटिंग्स और 55 से ज
नोएडा रैली से केजरीवाल लोकसभा चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगे

नोएडा रैली से केजरीवाल लोकसभा चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगे

Politics
अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी संयोजक अरविन्द केजरीवाल की नज़र दिल्ली की सातों सीटों के साथ-साथ चार पड़ोसी राज्यों उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ पर भी है। अपने चुनाव अभियान की दिल्ली में शुरुआत करने के बाद 8 सितंबर को नोएडा से अन्य राज्यों के लिए भी चुनाव अभियान शुरू करने जा रही है। इसी रणनीति के तहत दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आगामी रविवार को नोएडा में जन अधिकार रैली आयोजित की गई है। आप के वरिष्ठ नेता तथा राज्यसभा सदस्य संजय सिंह पिछले कुछ दिनों से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जन अधिकार पदयात्रा कर राज्य में पार्टी के लिए जमीन तैयार कर रहे हैं। ज्ञात रहे कि पिछले दिनों उत्तर प्रदेश नगर निगम चुनाव में आप के 60 प्रत्याशी जीते थे। संजय सिंह ने बताया कि नगर निगम चुनाव के बाद संगठन निर्माण की प्रक्रिया और तेज़ हुई है, उन्होंने कहा कि पार्टी आ
दिल्ली से सातो सांसद जीते तो न सीलिंग होगी, न मेट्रो का किराया बढ़ेगा – AK

दिल्ली से सातो सांसद जीते तो न सीलिंग होगी, न मेट्रो का किराया बढ़ेगा – AK

Politics
दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने द्वारका में कहा कि सातों सांसद जिता दो फिर न मेट्रो का किराया बढ़ेगा और न ही सीलिंग होगी। एसडीएम ऑफिस का उद्‌घाटन करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री कोई भी बने, दिल्ली के आम आदमी पार्टी के सातों सांसद हर फाइल केंद्र से पास करवा कर दिखाएंगे। जबकि दूसरी तरफ चार साल बीत गए, भाजपा के सातो सांसदों ने एक भी काम नहीं किया है। अगर आज दिल्ली में आप के सातों सांसद होते तो दस गुना तेजी से काम होता। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आप सातों सांसद जिताकर दिखाओ हम सभी फाइल क्लियर करके दिखाएंगे। उन्होंने फाइल क्लियर करने के तरीके बताते हुए कहा कि सीसीटीवी के लिए एलजी ऑफिस में धरना दिया। ऐसा पहली बार सुना होगा कि किसी मुख्यमंत्री ने एलजी ऑफिस के अंदर धरना दिया है। अगर सातों सांसद हमारे होंगे तो संसद में धरना दे देंगे, संसद ठप कर दें